UPSC सिविल सर्विस परीक्षा 2016: IAS कट ऑफ

22
2584

UPSC सिविल सर्विस परीक्षा 2016: IAS कट ऑफ – संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने बुधवार देर शाम को देश की प्रतिष्ठित सिविल सेवा परीक्षा का रिज़ल्ट घोषित कर दिया है। सिविल सेवा परीक्षा 2016-2017 के तहत भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS), भारतीय विदेश सेवा (IFS), भारतीय पुलिस सेवा (IPS), और केंद्रीय सेवाओं, ग्रुप-ए और ग्रुप-बी में नियुक्ति की जाती है। परीक्षा में कर्नाटक की नंदिनी के आर ने टॉप किया है। दूसरे टॉपर अनमोल सिंह बेदी और तीसरे नंबर पर गोपालकृष्ण रोनांकी का नाम है। चौथे नंबर पर सौम्या पांडे है और टॉप फाइव में आखिरी नाम अभिलाष मिश्रा का है।

अब जब सिविल सेवा परीक्षा 2016 के परिणाम घोषित हो चूके हैं। जाहिर हैं कि देश की इस कठिन परीक्षा में सफलता उन्हीं को मिलती हैं जो एकदम सटीक रणनीति और केन्द्रित होकर अध्ययन करते हैं। देश की सबसे प्रतिस्पर्धी परीक्षा होने के कारण इस परीक्षा में असफलता की दर काफी अधिक होती है। कुछ विद्यार्थी सफलता के नजदीक पहुँच कर रह जाते हैं। सिविल सेवा परीक्षा 2016 में सम्मिलित सभी परीक्षार्थी परिणाम के पश्चात कटऑफ जानने की उत्सुकता व्यक्त करते हैं। ताकि वह अपने अपनी तैयारी स्तर से अवगत हो पाए और अंदाजा लगा सके की उनकी परीक्षा रणनीति में किस तरफ के बदलाव की जरुरत है। उनकी इसी उत्सुकता और तैयारी रणनीति के मद्देनजर यहाँ कट ऑफ दिया जा रहा है।

 

UPSC सिविल सर्विस परीक्षा 2016: IAS कट ऑफ

सर्वप्रथम आप यह जान लें की सफलता उन्ही को मिलती है जो सही दिशा, विश्वसनीय पाठ्य सामग्री, सतर्क और सजग रहकर, अपनी गलतियों से सीखते हुए कठिन परिश्रम के तहत आगे बढ़ते हैं। यह समय निराशा का नहीं है अपितु आत्ममंथन और पुनःअवलोकन का है। आप कट ऑफ़ से अपने तैयारी स्तर से अवगत हो लें और यह समझ लें की अभी आपको कितना परिश्रम करना है-

ias cutoff इस बार सिविल सेवा परीक्षा के तहत 1099 उम्मीदवारों को नियुक्ति हेतु सफलता प्राप्त हुई है। वर्गवार विवरण के तहत सामान्य वर्ग के 500, अन्य पिछड़ा वर्ग से 347, अनुसूचित जाती से 163 और अनुसूचित जन-जाति से 89 उम्मीदवार सफल घोषित हुए हैं। इस वर्ष IAS के तहत 180, IFS के तहत 45, IPS के तहत 150, केन्द्रीय सेवा ‘ग्रुप A’ के तहत 603 और ‘ग्रुप A’ के तहत 231 उम्मीदवारों का चयन किया गया है। आधिकारिक जानकारी के लिए नीचे दी गई इमेज पर क्लिक करें-

ias appointment

हम उन सभी उम्मीदवारों को बधाई देना चाहेंगे, जिन्होंने कठिन परिश्रम से इस परीक्षा में सफलता प्राप्त की है। इस वर्ष असफल रहने वाले छात्र आत्ममंथन कर आगामी परीक्षा के लिए जी-जान से जुट जाएं। विदित है कि इसकी प्रारंभिक परीक्षा 18 जून को होनी है।

इस वर्ष परीक्षा में सम्मिलित होने वाले उम्मीदवारों के लिए OnlineTyari ऑल इंडिया टेस्ट (प्रारंभिक परीक्षा) का आयोजन कर रहा है। यह ऑल इंडिया टेस्ट पहली बार UPSC सिविल सेवा परीक्षा में बैठने वाले उम्मीदवारों के लिए तो लाभप्रद है ही साथ ही परीक्षा में पूर्व में बैठ चूके उम्मीदवारों के लिए भी उतना ही लाभप्रद है।  OnlineTyari द्वारा IAS ऑल इंडिया टेस्ट (प्रारंभिक परीक्षा) का आयोजन 10 जून को किया जा रहा है और जिसके लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो चूके हैं। तो देर किस बात की आज ही निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करें और इस वर्ष की UPSC सिविल सेवा परीक्षा की अपनी तैयारी स्तर से परिचित हों।

IAS-Prelims-GS-Paper-1-All-India-Test-10-June-2017-Register-Now

अपने संदेहों को नीचे कमेंट सेक्शन में हमसे साझा करें। UPSC IAS सिविल सेवा भर्ती परीक्षा 2017 से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़े रहें। सिविल सेवा परीक्षा में उत्कृष्टता हासिल करने के लिए सर्वश्रेष्ठ IAS परीक्षा तैयारी एप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best Exam Preparation App OnlineTyari

अगर अभी भी आपके मन में किसी प्रकार की कोई शंका या कोई प्रश्न है तो कृपया नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में उसका ज़िक्र करें और बेहतर प्रतिक्रिया के लिए OnlineTyari Community पर अपने प्रश्नों को हमसे साझा करें।

22 COMMENTS

    • यह बहुत अच्छी बात है, आप तैयारी शुरू करें.

  1. Mụjhe Phadne ke baad bhe aisa he lagta ha Jaise Kuch bhe nahe padha Ha .mene socha Ha kE me exam na du mujhe Kuch Samajh me nahe aa raha kya karu

    • अगर आप को लग रहा है कि आप परीक्षा के लिए तैयार नहीं हैं तो आप परीक्षा में सम्मिलित न हो बल्कि अगले वर्ष की परीक्षा के लिए तैयारी शुरू करें. अगर आप इस वर्ष की परीक्षा में बैठेंगे तो आप उलझन में रहेंगे. कुछ दिनों तक आप प्रारंभिक परीक्षा की तैयारी में रहेंगे और उसके बाद परीक्षा देकर आप असहज हो जाते हैं, परीक्षा के परिणाम का इंतज़ार करते हैं, मुख्य परीक्षा की तैयारी करूँ या प्रारंभिक परीक्षा की तैयारी करूँ इसी उलझन में रहेंगे और उस दौरान आपकी तैयारी नहीं हो पाएगी.
      इसीलिए आप अभी से आगामी वर्ष की परीक्षा की तैयारी करें और प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा की तैयारी साथ में करें. क्योंकि प्रारंभिक परीक्षा के बाद आपके पास अधिक समय नहीं बचता.
      मेरा मानना है की रण में जाएं तो पूरी तैयारी के साथ जाएं यदि आपका आत्मबल गिरा हुआ है तो आप बेहतर नहीं कर पायेंगे. ज्ञान बढायें ,आत्मविश्वास बढायें और फिर परीक्षा में बैठे.

  2. Sir ham intermediate; science se kie hai lekin math me hm cross kar gaye the jisko hm compartmental dawra clear kie to kya mai ias ka tyari kar skta hu

    • सिविल सेवा के लिए स्नातक (ग्रेजुएशन) होना आवश्यक है. हाई स्कूल और इंटरमिडियत में आपने कितने अंक प्राप्त किये हैं, यह महत्वपूर्ण नहीं है.

  3. Sir mera padhai me apne aim ko le kr concentrate nhi kr pa rhi hun. Mjhe pata h agr main krna chahun to bahut achha kr skti hun bt fir v nhi padh pa rhi hun smjh nhi a rha kya karun. Meri help kre mere aim ko seriously lene me…plz

    • कई बार होता है की हम कई वजहों से कंसन्ट्रेट नहीं कर पाते, यह स्वाभाविक प्रकृति है. पर आप यह देखों की आपके लिए अहम क्या है. आप अपने आप को सिविल सेवा में क्यों देखना चाहते हो? क्या आप इसके लिए कठिन मेहनत और दबाव सहने के लिए तैयार है.
      यदि हाँ, तो आप इस परीक्षा के लिए तैयारी करें अन्यथा अन्य भी विकल्प है आप उसकी तरफ कदम बढायें. IAS परीक्षा के लिए आपको मेंटली काफी स्ट्रोंग और फोकस होना पड़ेगा. निराशा को आपको स्थान नहीं देना है और इससे उबरना है. आप याद रखें की हर अच्छाई में दुश्वारियां होती है और आपको दुश्वारियों से निपट कर आगे बढ़ना होगा. अतः एकाग्र होकर तैयारी करें और अपना ध्यान न भटकने दें.

        • इंटरव्यू के लिए एक निश्चित पैटर्न नहीं बताया जा सकता. अगर हम कई इंटरव्यू के अवलोकन से कहें-
          1. आपके नाम और आपके निवास स्थान सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी से प्रश्न इंटरव्यू के प्रारंभ होते ही पूछ लिए जाते हैं.
          2. समसामयिक इकनोमिक, सामाजिक और अंतर्राष्टीय मुद्दों पर आपकी राय जाना जा सकता है.
          3. आपके विषय से प्रश्न किये जा सकते हैं, यदि आपने अपनी स्ट्रीम चेंज की हो जैसे डॉक्टर, मैनेजमेंट के बाद आपने इतिहास विषय को ही क्यों चुना..आदि.
          4.अगर आप जॉब करते हो तो उससे भी प्रश्न पूछे जा सकते हैं. जॉब चेंज कर इस क्षेत्र में आने का कारण भी जाना जा सकता है.
          5.कुछ प्रश्न आपको विचलित करने के लिए और किसी विशेष परिस्थिति में आपके निर्णय और आपकी जिम्मेदारी की समझ को जांचने के लिए अथवा आपका कॉन्फिडेंस चेक करने के लिए भी पूछा जा सकता है.
          6.कुछ प्रश्न आपकी त्वरित बुद्धि जांच के लिए भी पूछा जा सकता है, जैसे एक कटे हुए सेब की तरह क्या दीखता है?, एक इलेक्ट्रिक ट्रेन पूरब से पश्चिम की तरफ जा रही है तो उसका धुवाँ किस तरफ जाएगा आदि…इन प्रश्नों से आपके ध्यानपूर्वक प्रश्न सुनने के कौशल और त्वरित बुद्धि ज्ञान का अवलोकन किया जाता है.
          यह कुछ सामान्य प्रश्न है जिससे प्रश्न पूछे जा सकते हैं पर यह इंटरव्यू पैनल पर निर्भर करता है कि वह किस उम्मीदवार से क्या प्रश्न करते हैं.

  4. Optional papers Me Hindi literature choose kr skti hu kya or haaa m hindi medium ki aspirant hu.kisi ne kaha K aise aapko jada marks nhi mil skenge

    • हिंदी एक स्कोरिंग विकल्प है. आपको याद होगा की जब हिंदी के लिए आयोग ने यह आदेश दिया था कि हिंदी को अब सिर्फ वे ही छात्र ले सकेंगे जिन्होंने स्नातक में एक विषय के रूप में हिंदी का अध्ययन किया हो. तब स्कोरिंग होने की वजह से ही अधिकांश छात्रों ने इसका विरोध किया था. अगर आपकी हिंदी पर पकड़ है तो आप अवश्य ही हिंदी को अपना विकल्प विषय बना सकती है.

    • अभी आप अपने पाठ्यक्रम में सम्मिलित पुस्तकों को ध्यान से पढ़ें और उसपर अधिकार कायम करें. इसके अतिरिक्त आप 6-12 तक की NCERT पुस्तकों को ध्यान से पढ़ें और बुनियादी समझ विकसित करें साथ ही एकाध घंटे टीवी पर चल रहे महत्वपूर्ण विषयों को देखें और वह महत्वपूर्ण क्यों हैं, इसका हमारे ऊपर और देश के ऊपर क्या प्रभाव पड़ेगा आदि बातों को समझने और उसपर अपनी राय बनाने की कोशिश करें….अगर आप ने इतना कर लिया तो आपने सिविल सेवा परीक्षा के लिए आधी से अधिक तैयारी कर ली.

  5. Sir Hm commerce ki student hai to hmara question hai ki IAS exam me optional subject me Hm koi bhi subject le sakte h ya fir Jo hmne b.com.me pdha h WO hi Lena hoga to Hm bohot confuse ho Aap plz ese solve kijiy.

    • आप ऑप्शनल सब्जेक्ट के रूप में कोई भी subject जो UPSC की लिस्ट में है, का चयन कर सकते है-जैसे आप हिंदी, गणित, इतिहास आदि कुछ भी रख सकते हैं. जरुरी नहीं कि उसका अध्ययन आपने स्नातक में किया हो.

    • सर्वप्रथम आप विषय की बुनियादी समझ के लिए NCERT की 6-10 कक्षा तक की पुस्तक का अध्ययन करें. उस पर पकड़ बना लेने के बाद आप UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण पुस्तकों का अध्ययन करें और फिर GS विषय की तैयारी करें.

Leave a Reply