UGC NET सिलेबस एवं परीक्षा पैटर्न 2017

58
40031

UGC NET सिलेबस एवं परीक्षा पैटर्न 2017: CBSE ने हाल ही में जूनियर रिसर्च फैलो और सहायक प्रोफेसर के पद के लिए UGC NET परीक्षा से संबंधित आधिकारिक अधिसूचना जारी की है। UGC NET परीक्षा पूरे भारत में कुछ शहरों में 22 जनवरी 2017 को आयोजित की जाएगी

यह उन सभी उम्मीदवारों के लिए एक बहुत अच्छा अवसर है जो स्नातकोत्तर परीक्षा यानि MA/M.Sc/M.Com या MA के अंतिम वर्ष की परीक्षा दे रहे हैं। इस लेख में, हम UGC NET भर्ती परीक्षा 2017 से संबंधित सिलेबस और परीक्षा पैटर्न पर चर्चा करेंगे।

UGC NET पैटर्न, परीक्षा संरचना एवं योजना 2017

आपको बता दें कि परीक्षा में तीन टेस्ट शामिल होंगे। सभी तीनों टेस्ट में केवल ऑब्जेक्टिव टाइप के प्रश्न शामिल होंगे जो तीन अलग-अलग सत्रों में 22 जनवरी 2017 (रविवार) को आयोजित की जाएगी।

पेपर/सेशन अंक प्रश्नों की संख्या अवधि
I 100 60 1¼ घंटे (9:30 A.M. से 10:45 A.M.)
II 100 50 1¼ घंटे (11:45 A.M. से 12:30 P.M.)
III 150 75 2½ घंटे (2:00 P.M. से 4:30 P.M.)

आपको बता दें कि उम्मीदवारों का चयन UGC NET के सभी तीन टेस्ट में उनके प्रदर्शन पर निर्भर करेगा।

पेपर-I के लिए UGC NET पैटर्न

UGC NET 2017 के पेपर-I के अंतर्गत उम्मीदवार के शिक्षण/अनुसंधान योग्यता का आंकलन करना शामिल है। पेपर-I में उम्मीदवार की रीज़निंग एबिलिटी, कॉम्प्रिहेंशन, अगल सोच और सामान्य जागरूकता का परीक्षण किया जाएगा। 60 (साठ) मल्टीपल प्रश्न होंगे और प्रत्येक प्रश्न के लिए 2 अंक निर्धारित किया गया है ध्यान रहे कि 50 (पचास) प्रश्नों को हल करना आवश्यक है और अगर उम्मीदवार 50 से अधिक प्रश्न अटेंप्ट करते हैं तो, पहले हल किए गए 50 प्रश्नों का ही मूल्यांकन होगा।

पेपर-II के लिए UGC NET पैटर्न

UGC NET 2017 के द्वितीय पेपर में उम्मीदवार द्वारा चयनित विषय पर आधारित 50 ऑब्जेक्टिव टाइप के प्रश्न होते हैं और प्रत्येक प्रश्न के लिए 2 अंक निर्धारित है।

पेपर-III के लिए UGC NET पैटर्न

UGC NET 2017 के पेपर-III उम्मीदवार द्वारा चुने गए विषय से वस्तुनिष्ठ प्रकार के 75 प्रश्न शामिल होंगे और प्रत्येक प्रश्न के लिए 2 अंक निर्धारित है।

पेपर-II और पेपर-III के सभी प्रश्नों को हल करना अनिवार्य है।

उम्मीदवारों को बुकलेट के साथ उपलब्ध कराई गई ऑप्टीकल मार्क रीडर (OMR) शीट में पेपर-I, पेपर-II, पेपर-III से संबंधित प्रश्नों के हल को चिन्हित करना होगा। आये अब, UGC NET 2017 के विभिन्न पेपर के लिए सिलेबस पर एक नज़र डालते हैं।

UGC NET सिलेबस 2017

UGC NET परीक्षा के तीन पेपर बहु विकल्पीय प्रश्नों (MCQ) पर आधारित होंगे। पेपर-I, जो सभी के लिए कॉमन है। अन्य दो पेपर वैकल्पिक और विषय पर आधारित रहेंगे। पेपर-I और पेपर-II दोनों के लिए UGC NET सिलेबस का उल्लेख नीचे किया गया है:

पेपर-I के लिए UGC NET सिलेबस

शिक्षण

  • प्रकृति, ऑब्जेक्टिव्स, विशेषताएं और बुनियादी जरूरतें
  • शिक्षार्थियों की विशेषताएं
  • शिक्षण को प्रभावित करने वाले कारक
  • शिक्षण के तरीके
  • शिक्षण में मददगार सामग्री
  • मूल्यांकन प्रणाली

अनुसंधान

  • अर्थ, विशेषताएं, और प्रकार
  • अनुसंधान के कदम
  • अनुसंधान के तरीके
  • अनुसंधान आचार
  • पेपर, लेख, कार्यशाला, सेमिनार, सम्मेलन और संगोष्ठी
  • थीसिस लिखना: इसकी विशेषता और प्रारूप

समझबूझ कर पढ़ना

एक पैसेज सेट होता है जिसके प्रश्नों को सूझबूझ के साथ हल करना होता है।

संचार

प्रकृति, विशेषताएं, प्रकार, बाधाएं, और कक्षा में प्रभावी संचार

रीज़निंग (गणित सहित)

  • नंबर सीरिज़, लेटर्स सीरिज़, कोड
  • रिलेशनशिप, क्लॉसिफिकेशन
  • तर्क करने की संरचना को समझना
  • मूल्यांकन और निगमनात्मक और प्रेरक तर्क भेद
  • मौखिक उपमा: शब्द-उपमा और एप्लाइड उपमा
  • मौखिक वर्गीकरण
  • रीज़निंग लॉजिकल डॉयग्राम: सिंपल-डॉयग्रामेटिक के रूप में, मल्टी-डॉयग्रामेटिक से संबंधित
  • वेन डॉयग्राम, एनॉलिटिकल रीज़निंग

लॉजिकल रीज़निंग

  • तर्क की संरचना को समझना
  • मूल्यांकन और निगमनात्मक और प्रेरक तर्क भेद
  • मौखिक उपमा: शब्द उपमा – एप्लाइड सादृश्य
  • मौखिक वर्गीकरण
  • रीज़निंग लॉजिकल डॉयग्राम: सिंपल-डॉयग्रामेटिक के रूप में, मल्टी-डॉयग्रामेटिक से संबंधित
  • वेन डॉयग्राम, एनॉलिटिकल रीज़निंग

डेटा व्याख्या

  • स्रोत, अधिग्रहण, और डेटा की व्याख्या
  • मात्रात्मक और गुणात्मक डेटा
  • ग्राफिकल प्रतिनिधित्व और डेटा की मैपिंग

सूचना और संचार प्रौद्योगिकी (ICT)

  • ICT: मतलब, लाभ, नुक़सान और उपयोग करना
  • जनरल संकेताक्षर और terminologies
  • बुनियादी इंटरनेट और ई-मेलिंग

लोग और पर्यावरण 

  • लोग और पर्यावरण इंटरेक्शन
  • प्रदूषण के स्रोतों
  • प्रदूषण और मानव जीवन पर उनके प्रभाव, प्राकृति और ऊर्जा संसाधनों का दोहन
  • प्राकृतिक ख़तरे और शमन

UGC NET परीक्षा 2017 विषय कोड

UGC NET सिलेबस से परिचित होने के बाद अब उम्मीदवारों को आवेदन करने वाले विषय से संबंधित कोड पता होना चाहिए। UGC NET विषयों की सूची के साथ विषयों से संबंधित कोड नीचे उपलब्ध कराए गए हैं:

कोड विषय
01 अर्थशास्त्र
02 राजनीति विज्ञान
03 फिलॉसफी
04 मनोविज्ञान
05 नागरिक सास्त्र
06 इतिहास
07 मनुष्य जाति का विज्ञान
08 व्यापार
09 शिक्षा
10 सामाजिक कार्य
11 रक्षा और सामरिक अध्ययन
12 गृह विज्ञान
14 सार्वजनिक प्रशासन
15 जनसंख्या अध्ययन *
16 हिन्दुस्तानी संगीत (गायन / वी)
17 प्रबंध
18 मैथिली
19 बंगाली
20 हिंदी
21 कन्नड़
22 मलयालम
23 उड़िया
24 पंजाबी
25 संस्कृत
26 तामिल
27 तेलुगु
28 उर्दू
29 अरबी
30 इंग्लिश
31 भाषा विज्ञान
32 चीनी
33 डोगरी
34 नेपाली
35 मणिपुरी
36 असमिया
37 गुजराती
38 मराठी
39 फ्रेंच
40 स्पेनिश
41 रूसी
42 फ़ारसी
43 राजस्थानी
44 जर्मन
45 जापानी
46 प्रौढ़ शिक्षा / सतत् शिक्षा / एंड्रागॉगी / गैर औपचारिक शिक्षा
47 शारीरिक शिक्षा
49 अरब संस्कृति और इस्लामी अध्ययन
50 50 भारतीय संस्कृति
55 श्रम कल्याण / कार्मिक प्रबंधन / औद्योगिक संबंध / श्रम और सामाजिक कल्याण / मानव संसाधन प्रबंधन
58 कानून
59 पुस्तकालय और सूचना विज्ञान
60 बौद्ध, जैन, गांधीवादी और शांति अध्ययन
62 धर्मों के तुलनात्मक अध्ययन
63 जनसंचार और पत्रकारिता
65 नृत्य
66 संग्रहालय विज्ञान और संरक्षण
67 पुरातत्व
68 अपराध
70 जनजातीय और क्षेत्रीय भाषा / साहित्य
71 लोक साहित्य
72 तुलनात्मक साहित्य
73 संस्कृत परंपरागत विषयों (ज्योतिष / Sidhanta ज्योतिष / नव्य Vyakarna / सहित Vyakarna / मीमांसा / नव्य न्याय / सांख्य योग / Tulanatmaka Darsana / शुक्ला/ यजुर्वेद / माधव वेदांत / धर्म शास्त्र / साहित्य / पुराण-इतिहास / अगम / अद्वैत वेदांत)
74 महिला अध्ययन
79 (ड्राइंग और चित्रकारी / मूर्तिकला / ग्राफिक्स / सहित दृश्य कला लागू होता है की कला / इतिहास/कला)
80 भूगोल
81 सामाजिक चिकित्सा एवं सामुदायिक स्वास्थ्य
82 फोरेंसिक विज्ञान
83 पाली
84 कश्मीरी
85 कोंकणी
87 कंप्यूटर विज्ञान और अनुप्रयोग
88 इलेक्ट्रॉनिक विज्ञान
89 पर्यावरण विज्ञान
90 इंटरनेशनल और क्षेत्र अध्ययन
91 प्राकृत
92 मानव अधिकार और कर्तव्य
93 पर्यटन प्रशासन और प्रबंधन
94 बोडो
95 संथाली
96 कर्नाटक संगीत (गायन साधन, टक्कर)
97 रवींद्र संगीत
98 आघाती अस्त्र
99 नाटक / रंगमंच

पेपर-II और पेपर-III के प्रत्येक विषय से संबंधित पूरे सिलेबस को पढ़ने के लिए आप इस लिंक http://www.ugc.ac.in/net/syllabus.aspx पर क्लिक करें।

हम उम्मीद करते हैं कि इस लेख ने आपको आगामी 22 जनवरी 2017 को आयोजित UGC NET भर्ती परीक्षा 2017 से संबंधित सिलेबस और परीक्षा पैटर्न के बारे में पूरी जानकारी दी होगी।

CBSE UGC NET 2017 के बारे में अधिक जानकारी के लिए हमसे जुड़े रहें। शिक्षण परीक्षाओं में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए, सर्वश्रेष्ठ शिक्षण परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best-Exam-Preparation-App-OnlineTyari

अगर अभी भी आपके मन में किसी प्रकार की कोई शंका या कोई प्रश्न है तो कृपया नीचे दिए गए कॉमेंट सेक्शन में उसका ज़िक्र करें और बेहतर प्रतिक्रिया के लिए OnlineTyari Community पर अपने प्रश्नों को हमसे साझा करें।

58 COMMENTS

    • यदि आप तृतीय वर्ष में प्रवेश ले चूके हैं तो अवश्य प्रतिभाग कर सकते हैं।

    • पेपर प्रति वर्ष जनवरी और जून में संपन्न किया जाता है।

    • नेट क्वालीफाई करने के लिए आपको प्रति वर्ष दो बार आयोजित होने वाली नेट परीक्षा में सम्बंधित स्नाकोत्तर विषय के तहत आवेदन करना होगा। परीक्षा में वस्तुनिष्ठ दो पेपर -पेपर-I और पेपर-II के तहत आपके ज्ञान का टेस्ट किया जाएगा और फिर परीक्षाफल घोषित किया जाएगा। यदि आप निर्धारित कट -ऑफ प्राप्त करने में सफल होते हैं तो आप नेट या JRF का प्रमाणपत्र प्राप्त कर सकते हैं। JRF के लिए आयु सीमा का निर्धारण है पर नेट के लिए आयु सीमा का प्रतिबंध नहीं है।

  1. जनवरी वाला नेट परीक्षा का रिजल्ट कब तक आयेगा ।

    • अप्रैल-मई तक अधिकांशतः परिणाम घोषित हो जाता है।

    • आवेदन करने हेतु स्नाकोत्तर विषय में 55% अंक। आरक्षित वर्ग को 5% की छूट अनुमन्य है।

    • नेट करने के लिए आप अपने स्नाकोत्तर विषय ( नेट परीक्षा के विषयों को चेक करें) में मजबूत पकड़ बनाएं। फिर आप प्रथम पेपर के लिए अभ्यास करें। उसके बाद आप नेट परीक्षा में पूछे गए आपके विषय के पुराने पेपर से कठिनाई स्तर को जांचे और फिर अपनी तैयारी की रणनीति बनाए।

    • UGC नेट पेपर-1 में सिर्फ आपको कट ऑफ पार करना होता है

  2. मेरी बी ए मे 54% है लेकिन एक विषय से किये हुए बी ए उर्दू मे 58% मार्क्स है मै उर्दू से नेट की परीक्षा के लिए आवेदन कर सकता हूँ कि नही । कृपया सलाह दें ।

    • नेट के लिए स्नाकोत्तर (MA) में 55% अनिवार्य है. BA के अंक नहीं देखे जाते.

  3. नेट के पेपर को क्वालीफाई जादा नंबर्स के साथ करने पर स्कॉलर शिप मिलती हे की नही ?

    • अगर आप की आयु 28 वर्ष (सामान्य) है तो आप JRF के लिए पात्र होते हैं. ऐसे में यदि आप अधिक अंक प्राप्त कर JRF हेतु घोषित कटऑफ पार कर जाते हैं तो किसी विश्विद्यालय से पंजीकृत हो जाते हैं तो आपको JRF के तहत मिलने वाली ग्रांट मिलती है.

    • नेट परीक्षा उत्तीर्ण होने के पश्चात आपको किसी विश्विद्यालय से पंजीकृत होकर अपनी पीएचडी डिग्री पूर्ण करनी होती है. फिर आप विभिन्न विश्विद्यालयों के तहत निकलने वाली अध्येता (lecturership) के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

    • आप दोनों पेपर से NET के लिए आवेदन देने के पात्र हैं. पर एक एक सत्र की परीक्षा में केवल एक विषय से ही आवेदन करें, क्योंकि परीक्षा एक ही समय संपन्न की जाती हैं. अतः एक सत्र में सिर्फ एक विषय से ही परीक्षा दे सकते हैं.

    • आप कही से किसी भी परीक्षा की तैयैर कर सकते हैं. परीक्षा में सफलता आपकी पाठ्यक्रम के अनुरूप गंभीरता पूर्वक अध्ययन पर निर्भर करती है. अध्ययन सामग्री में किसी भी प्रकार की सहायता हेतु आप हमसे संपर्क कर सकते हैं. आशा है आप निष्ठापूर्वक अध्ययन कर अपनी मंजिल अवश्य प्राप्त करेंगे.

  4. इतिहास विषय से नेट परीक्षा हेतु मार्गदर्शन कीजिये।

  5. क्या मै इतिहास को छोड़कर अन्य विषय से परीक्षा दे सकता हू मेरा ma मे इतिहास था

    • आप इतिहास से ही NET परीक्षा में बैठ सकते हैं. आप इसमें ऑप्शन देख सकते हैं जैसे-भारतीय संस्कृति (Indian Culture), पुरातत्व (Archaeology), इतिहास, संग्रहालय और संरक्षण (Museology & Conservation). यह आपके MA में लिए गए विषय पर निर्भर करता है की आप इनमें से कौन-से विकल्प का चयन कर सकते हैं.

  6. क्या NET qualify करने के बाद p.hd करना जरूरी है? क्या qualify के बाद ही assistant professor की भर्ती नहीं हो सकती है क्या किसी सरकारी विश्वविद्यालय में?

    • नेट परीक्षा में सफल होने के पश्चात आप Phd के लिए अपना पंजीकरण किसी विश्वविद्यालय में करा सकते हैं

  7. संस्कृत से शास्त्री की है वह आचार्य प्रथम वर्ष सन् 2017 में पास की है मुझे किस विषय का चयन करना चाहिए संस्कृत या परंपरागत विषयों में से किसी एक का

    • अगर आप B.A. में हैं तो आप अच्छे नंबर से BA पास कीजिए और उसके पश्चात MA भी अच्छे नंबर से पास कीजिए (कम-से-कम 55% अंक) फिर संदर्भित विषय से आप NET परीक्षा में सम्मिलित हो सकते हैं.

  8. Mere MA first year m ek paper m back aayi h or 2nd year ki fees b abi submit ni ho payi meri or back ka exam december m hoga or Phir uske baad m 2nd year start hoga MA ka mera to kiya m b NET ka exam de skta hu

    • नेट परीक्षा में MA अंतिम वर्ष के छात्र भाग ले सकते हैं. पर ध्यान रहें इस हेतु आपको MA परीक्षा में 55% अंक हासिल करने होंगे. अन्यथा आप आवेदन के पात्र नहीं होंगे/आपकी पात्रता रद्द कर दी जाएगी..

  9. मैं ओबिसी से हुं मेरे एम ए में 54 % है क्या मैं नेट कर सकता हुं

  10. मैं M.SC (Physics) session 2013- 2015 मे था। 4th semester ka exam 2015 me hi diya jisme mujhe absent kr diya tha , 2017 me sudhar hokr result aaya , kya my NET ke exam de sakta hun,

    • नेट परीक्षा में आप M.Sc. कम्पलीट होने के पश्चात बैठ सकते हैं

Leave a Reply