सरकारी नौकरी के लिए कैसे पाएं 100% सफलता !!

सरकारी नौकरी के लिए कैसे पाएं 100% सफलता- अगर आप सरकारी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो यह लेख आपके लिए हैं। आज हम आपको ‘सरकारी नौकरी के लिए कैसे पाएं 100% सफलता’ के तहत सफलता प्राप्त करने के आसान तरीकों से परिचित कराएँगे।

YouTube Subscribe

अगर प्रयत्नपूर्वक और सही दिशा में निरंतर कोशिश की जाए तो सफलता अवश्य मिलती है सिर्फ जरुरत है धैर्य के साथ अभ्यास करते रहने की। जबकि होता है कि जब आप टॉपर्स के इंटरव्यू पढ़ते या देखते हैं तो पढ़ने/देखने से नए उम्मीदवारों को प्रेरणा मिलती है और उम्मीदवार अपनी सफलता के लिए जोश से भर जाते हैं परन्तु यह प्रतिबद्धता ज्यादा देर नहीं ठहरती और समय के साथ आप का रुझान कम होने लगता है। आपको इस रुझान को कम नहीं होने देना है और एकाग्रचित्त होकर अध्ययन कर्म में प्रवृत्त रहना है-यही मूल मंत्र है।

 

सरकारी नौकरी के लिए कैसे पाएं 100% सफलता !

प्रत्येक व्यक्ति के सीखने की पद्धति अलग होती है। आप स्वयं सर्वश्रेष्ठ रूप में कैसे सीख सकेंगे ये स्वयं समझना होगा।आपको यह भी समझना होगा सफलता की कुंजी पुनरावृत्ति (दोहराना) है और यह एक निरंतर चलने वाली प्रक्रिया है और इसे परीक्षा के महीने में करना उचित नही है। हमारी कोशिश परीक्षा पाठ्यक्रम को सही तकनीक (प्रक्रिया) से तैयार करने में आपकी सहायता करना है। नोट्स लेने के कौशल को बेहतर करना है, परीक्षा के लिए रणनीति क्या हो और तयशुदा समय में प्रश्न-पत्र के प्रश्नों को सुलझाने की क्षमता को किस तरह बढ़ाएं। आइए हम कुछ महत्त्वपूर्ण तथ्यों पर नजर डाल लेते हैं जो परीक्षा में 100% सफलता दिलाने में हमारी मदद करती हैं-

(1) परीक्षा पैटर्न और पाठ्यक्रम : सबसे महत्त्वपूर्ण है आप जिस परीक्षा में सम्मिलित होने जा रहे हैं उस परीक्षा स्ट्रक्चर को गहनता से समझे। ऐसा न हो कि आपकी मेहनत बिना किसी वजह के हो क्योंकि प्रतियोगी छात्रों को किसी भी विषय में शोध नहीं करना है बल्कि उन्हें विषय की आधारभूत समझ के साथ सिलेबस के आधार पर अपनी जानकारी को परिपूर्ण करना है इसलिए उम्मीदवारों को सिलेबस सिर्फ देखना नहीं है बल्कि उसे जज्ब कर लेना है। इससे आप अतिरिक्त पढ़ाई से बच जाएंगे और पाठ्यक्रम को भी समय से ख़त्म कर पाएंगे।

(2) शान्तमय और प्रकाशमय हो पढ़ाई का स्थान :  पढ़ाई के लिए एक शांत एवं एक प्रकाशपूर्ण स्थान चुने, यह आवश्यक है कि आप खुद को अनावश्यक बाधाओं से अलग कर लें, दूसरों से स्पष्ट कहें कि आप काम कर रहे हैं एवं एकांत चाहते हैं और काम के बाद आप उनसे मिलेंगे। पढ़ाई के लिए आप टेबल अथवा डेस्क का उपयोग करें। पढ़ाई  के लिए आप बिस्तर या आराम कुर्सी पर बिलकुल न लेटें, अगर आप चाहें तो बीच-बीच में कुछ देर के लिए विश्राम लें।

(3) पढ़ाई का समय निश्चित और नियत करें : स्वयं अकेले अध्ययन करें ताकि आप अवधारणा/मूल तथ्यों और जानकारियों को आत्मसात कर सकें। समूह में भी अध्ययन करें ताकि आप अपना सही आंकलन कर सकें, खुद का मूल्यांकन कर सकें। पढ़ाई के लिए दिन का सबसे अच्छा समय चुनें। कोई हो सकता है रात भर पढ़ें और दिन में सोए। हो सकता है कि यह दिनचर्या उसके लिये सहज हो पर आपके लिए सहज न हो। इसी तरह, कोई हर रोज़ तीन-चार विषय एक साथ पढ़ता हो जबकि हो सकता है कि आपकी सहजता एक बार में एक विषय पढ़ने में हो। ऐसी स्थिति में आपको अपने स्वभाव के अनुसार ही रणनीति बनाई चाहिये। जिसमें दिन का सबसे बेहतर समय चुने जिसमें एकाग्रता से अपनी पढ़ाई पूरी कर सकें। कुछ घंटे गंभीर अध्ययन के लिए निश्चित कर लें एवं उसका कड़ाई से पालन करें। अगर आप एक साथ कई घंटे नहीं पढ़ सकते तो छोटे विराम लें। कहा जाता है व्यक्ति 30 मिनट पूरी एकाग्रचित हो सकता है उसके बाद उसकी एकाग्रता कम होने लगती है। जब आप महसूस करें कि अब आप पूरी तरह से एकाग्र नही हो पा रहे तो उठें, कुछ देर टहलें, कुछ पियें (फलों का रस, कॉफी, दूध, चाय, शर्बत इत्यादि) और फिर बैठें।

(4) प्रत्येक टॉपिक क्लियर करते चलें- आपने किसी विषय की अध्ययन सामग्री पढ़ी और उसे ठीक तरीके से न समझ पाए तो उसे फिर से न पढ़ें और समझने की कोशिश करें, न समझ में आएं तो शिक्षक, मित्रों से परामर्श लें। उस पर अपने साथियों से चर्चा करें, इन्टरनेट पर खोज कर उसकी धारणा को स्पष्ट कर लें, तब आगे बढ़ें। उसे छोड़कर आगे न बढ़ें।स्वयं को हमेशा और बेहतर करने के लिए चुनौती देते रहें, इससे आप में खुद ही प्रतिस्पर्धात्मक योग्यता विकसित हो जाएगी। आप सकारात्मक होकर बेहतर करने के लिए खुद को प्रेरित रख पाएंगे और आपका आत्मविश्वास भी प्रबल रहेगा।परीक्षा के समय यही सकारात्मकता आपको तनाव और घबराहट से बचाती है। जो भी पढ़ें उसके शोर्टनोट बनाते चलें, जिससे रिवीजन में आसानी हो अन्यथा जहाँ पढ़ रहे हैं उसके महत्त्वपूर्ण बिंदु को हाईलाइट भी कर सकते हैं। गणित और रीजनिंग को समझ कर अभ्यास करने पर अधिक बल दें। इन्हें सिर्फ पढ़ने से काम नहीं चलेगा।

(5) पुनरावृत्ति करें : टाइम टेबल में पुनरावृत्ति के लिए पर्याप्त वक्त रखें, जिससे आखिरी समय में परेशानी न हो। जैसे ही कोचिंग समाप्त होती है अपने क्लास नोट्स की पुनरावृत्ति कर लें। अगर आप कोचिंग नहीं लेते तो कल के पढ़ें हुए अध्ययन को दोहरा लें और फिर नया अध्ययन करें। दोहराने की प्रक्रिया अगले दिन अध्ययन शुरू होने से पहले और फिर सप्ताह के अंत में और फिर महीने भर में जितना पढ़ा उसे दुहराने की होनी चाहिए। अलग-अलग तरीकों से पुनरावृत्ति करें ताकि आपको पढ़ने में भी मजा आए।  इससे आप पढ़ी हुए सामग्री को भूलेंगे नहीं। कई बार दूसरों के साथ अध्ययन करने पर आप यह जान सकते हैं कि विषय को पूरी तरह से समझ पायें हैं या नहीं। यदि आपने प्रश्नों के सही उत्तर दिए हैं और उसे आप दूसरों को अच्छी तरह समझा पाने में सफल हो गए तो समझिए कि आपके द्वारा अध्ययन किये गए विषय को आपने आत्मसात कर लिया। वरना आप महसूस करेंगे कि अभी कुछ और मेहनत करना जरूरी है।

(6) तयशुदा समय में अध्ययन पूरा होने पर खुद को प्रोत्साहन दें : टाइम टेबल का कड़ाई से पालन करें और टाइम टेबल के निर्धारित लक्ष्यों को पूर्ण होने पर खुद को शाबासी दें।  करें कि यदि आपने इन निश्चित घंटों में गंभीर अध्ययन किया तो कुछ देर मनोरंजन के लिए रखेंगे और जब आप अपने मासिक और अर्द्धवार्षिक लक्ष्य को पूर्ण कर लें तो उसका जश्न मनाएं।

(7) कैसे पढ़ें : किसी पाठ्य-सामग्री या पुस्तक को सिर्फ सीधे-सीधे पढ़ने के बजाय उसे और दिलचस्प बनाईये जैसे कि महत्त्वपूर्ण अंश को चिन्हांकित करने के लिए हाइलाईटर का उपयोग करें। महत्त्वपूर्ण अंश के छोटे-छोटे ट्रिक बनाकर नोट करें। जिस पाठ को न समझ जाएं उसके प्रश्न बनाकर नोट करें। पैराग्राफ या विभाग को प्रश्न में परिवर्तित करके पढ़ने, समझने के बाद उत्तर लिखें। आप वही पढ़ रहे हैं जो परीक्षा के लिए अनिवार्य है और वह आपका लक्ष्य है ऐसा सोच कर  पढ़ने से परीक्षा का तनाव कम होगा और हम एकाग्र होकर अपना अध्ययन कर सकेंगे।

(8) विगत वर्ष के प्रश्न पत्र का करें अवलोकन :परीक्षा में पूछे जा रहे प्रश्नों पर पैनी नजर रखें कि किस तरह के प्रश्न पूछे जा रहे हैं और उनका कठिनाई स्तर क्या है, क्या आप अधिकतर प्रश्नों को हल करने में सक्षम हैं? क्या आपके उत्तर लेखन का ढंग वह है जो परीक्षा उम्मीदवारों से मांग करती है?

(9) मॉक टेस्ट में सम्मिलित हों : विभिन्न प्लेटफ़ॉर्म द्वारा आयोजित होने वाले मॉक टेस्ट में सम्मिलित होकर दूसरें छात्रों के साथ तुलना कर अपना आत्मवलोकन करते रहिए। कमियों को दूर कीजिए और परीक्षा नियत समय में ख़त्म करने का भी अभ्यास कीजिए। ऑनलाइन मॉक टेस्ट में सम्मिलित होकर अपनी ऑल इंडिया रैंक प्राप्त कर जानिए कि आपकी तैयारी का स्तर क्या है। अभी किस सेक्शन या किस विषय पर आपको और अध्ययन की जरुरत है? उन सेक्शन/विषय पर अपनी पकड़ मजबूत करें।

अन्य महत्त्वपूर्ण बातें-

  • बहुत ज्यादा चाय, कॉफी या ठन्डे पेय न लें। स्वास्थ्यप्रद खाना समय पर खाएं। भोजन के पोषक तत्त्व आपके दिमाग को तेज रखने में सहायक होंगे।
  • नियमित व्यायाम, पर्याप्त भोजन, पर्याप्त नींद आपमें ऊर्जा के स्तर को बढ़ाएगा, आपके दिमाग को साफ़ रखेगा और तनाव कम करेगा।
  • बहुविकल्पी परीक्षा में उत्तर देते समय ध्यान से ओएमआर(OMR) शीट में गोले भरे, हड़बड़ी में गलत गोले को चिन्हित न करें।
  • अगर परीक्षा लिखित हो तो कोई भी प्रश्न घबराहट में न लिखें, पहले उसके बारे में अच्छे से सोंच कर फ्रेमवर्क तैयार कर लें फिर लिखें। उत्तर लिखते समय पैराग्राफ (अनुच्छेद) चेंज कर लिखें और शोर्टफॉर्म (अप्रचलित) का प्रयोग न करें। उत्तर के बीच में ही निष्कर्ष नही दें, क्रमानुसार दें। एक प्रश्न में बहुत अधिक समय न लगाएं। उन विषय पर बात न करें, जिसे प्रश्न में नही पुछा गया हो।

हमें आशा है आप ‘सरकारी नौकरी के लिए कैसे पाएं 100% सफलता’ के तहत प्राप्त आवश्यक तथ्यों से परिचित हुए होंगे और यह प्रदत्त तथ्य आपकी सफलता में भी सहायक होंगे। तो एकाग्रचित्त होकर पढ़ाई में जुट जाइए और तब तक न रुकें जब तक मुक़ाम हासिल न हो जाए।

प्रतियोगी भर्ती परीक्षा से संबंधित अधिक जानकारी के लिए हमसे जुड़े रहें। सरकारी नौकरी की प्रतियोगी परीक्षा में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रतियोगी परीक्षा तैयारी एप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best-Government-Exam-Preparation-App-OnlineTyari

47 REPLIES

  1. MOHAMMAD SHAHID

    सर जैसे की अपने कहा स्टडी के लिए टेबल व चैयर का प्रयोग करे यही मुझे सही लगा क्यूंकि में बेड पर स्टडी करता हु और कुछ ही देर में बैठे2 थक जाता हूं।।
    थंक्स फ़ॉर थिस वैल्युएबल पॉस्ट।।

    Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      आप परीक्षा पाठ्यक्रम अपने पास रख कर सम्बंधित विषय की कोई भी पुस्तक जो आपको आसानी से उपलब्ध हो पढ़ सकते हैं. परन्तु शर्त यह है की आपका परीक्षा पाठ्यक्रम पूरा होना चाहिए.

      Reply
  2. Nisha Verma

    Thanks sir…. aapne itne achhe methods bataye aapne…puri kosis karenge ise apni study ke doraan apply karne ki….

    Reply
    1. Ajay K. Tripathi

      यह आपके पढ़ने की प्रकृति पर निर्भर करता है. जिसमें आपको सहूलियत हो उस मोड का चयन करें. परन्तु अब क्योंकि सारी परीक्षा ऑनलाइन है तो आपको मॉक टेस्ट ऑनलाइन ही अटेम्प्ट करने चाहिए.

      Reply

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.