IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के महत्वपूर्ण टॉपिक्स: राष्ट्रीय छात्र स्टार्टअप नीति

करेंट अफ़ेयर्स पर IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के महत्वपूर्ण टॉपिक्स: यह समय सभी अभ्यर्थियों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण  है और एक-एक दिन की कीमत बहुमूल्य है। तो सभी अभ्यर्थी प्रत्येक दिन का सदुपयोग करें और अपने लक्ष्य की तरफ बढ़ते रहे। IAS परीक्षा हेतु करेंट अफ़ेयर्स को ज़्यादा महत्व दिया जाता है क्योंकि मुख्य और प्रारंभिक परीक्षा दोनों में अधिकतर प्रश्न इसी टॉपिक्स से पूछे जाते हैं। करेंट अफ़ेयर्स के ज्ञान के अतिरिक्त, विशेषज्ञों की राय, घोटाले, राजनीतक संघर्ष, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय संबंधी घटनाओं का विश्लेषण आपको प्रत्येक टॉपिक्स पर नए दृष्टिकोण प्रदान करेगा जिन्हें आप अपने उत्तरों में प्रयोग कर सकते हैं।

अगर आप अपने लक्ष्य की तरफ ईमानदारी से सटीक रणनीति द्वारा आगे बढ़ते हैं तो आपको निश्चित रूप से सफलता हासिल होगी।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के महत्वपूर्ण टॉपिक्स: राष्ट्रीय छात्र स्टार्टअप नीति

सभी UPSC IAS उम्मीदवार अब IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 की तैयारी कर रहे हैं। समस्या ये है कि हम कितना भी पढ़ हम परीक्षा की तैयारी हेतु पूर्णतः आश्वस्त नहीं हो पाते। कारण पाठ्यक्रम का विहंगम होना है। करेंट अफेयर के तहत सभी महत्वपूर्ण और चर्चा में बने रहने वाले विषयों, सरकारी नीतियों और संशोधनों का  हों लेकिन वहां हमेशा अनिश्चितता का अंश रहता है। इसी डर को पार पाने के लिए हम करेंट अफ़ेयर्स पर IAS प्रारंभिक परीक्षा विशेष महत्त्व होता है। यह विषय आपके साक्षात्कार में भी काफी सहायक होते हैं जो आपको खबर की जानकारी दे कर आपका दृष्टिकोण बनाने और समकालीन जरूरतों के सन्दर्भ में नीतियों का विश्लेषण करने में सहायक है। आज हम आपसे ‘राष्ट्रीय छात्र स्टार्टअप नीति’ टॉपिक्स को साझा कर रहे हैं-

राष्ट्रीय छात्र स्टार्टअप नीति

राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी ने 16 नवंबर 2016 को राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रीय छात्र स्टार्टअप नीति की शुरुआत की थी। गुजरात सरकार ने भारत में पहला छात्र स्टार्टअप और नवाचार नीति प्रस्तुत की।

  • राष्ट्रीय छात्र स्टार्टअप नीति को एआईसीटीई (AICTE-All India Council for Technical Education) ने तैयार किया है।
  • राष्ट्रीय छात्र स्टार्टअप नीति का लक्ष्य 100,000 तकनीकी आधारित छात्र स्टार्टअप की शुरुआत करना तथा उसके जरिए अगले 10 साल में 10 लाख रोजगार के अवसर पैदा करना है।
  • इस नीति के तहत तकनीकी संस्थाओं के बीच मजबूत आपसी सहयोग के जरिए लक्ष्य को हासिल करने की योजना है।
  • इस नीति के तहत तकनीकी संस्थाओं के बीच मजबूत आपसी सहयोग के जरिए लक्ष्य को हासिल करने की योजना है।
  • इसका पूरा ध्यान भारतीय युवा को 21वीं सदी और उसके बाद स्टार्टअप नीति के लिए बेहतर तकनीकी सुविधा उपलब्ध कराना है।

क्यों है जरुरत?

  • अगर देश में रोजगार बढ़ेगा तो काम की गुणवत्ता भी बढ़ेगी।
  • अगर युवा रोजगार को लेकर परेशान होंगे तो देश में हालात बिगड़ेंगे।
  • नौकरियां पैदा करना सरकार की प्राथमिकता में होनी चाहिए।
  • अगर हम 2015 के आंकड़ों की बात करें तो 35 लाख नौकरियां मिली जो कि विगत 7 साल में सबसे कम थी, यह स्थिति काफी निराशाजनक है।
  • इस दौर में जब आदमी के काम मशीन से हो रहे हैं तो हम एक बड़े बदलाव से गुजर रहे हैं। हमें अपने छात्रों जो कि नई खोज कर रहे हैं, उद्यमी बन रहे हैं उनके लिए बाजार मुहैया कराना होगा।
  • अगर हमें उचित विकास की दर के साथ आगे बढ़ना है तो फिर हमारे केंद्रीय संस्थानों के प्रमुखों को इसे अपनी जिम्मेदारी की तरह लेना होगा।
  • हमारी आर्थिक प्रगति के हिसाब से हमारे शैक्षिक संस्थानों की वैश्विक रैंकिंग मेल नहीं खा रही है।

नीति की उपयुक्तता

  • नीति में उच्च शिक्षण संस्थान के छात्रों की उद्यमशीलता को उभारने की काफी क्षमता है।
  • ध्यातव्य है कि इस नीति के तहत तकनीकी संस्थाओं 7 आईआईटी खड़गपुर, कानपुर, दिल्ली, मद्रास, गुवाहाटी, रुड़की द्वारा मिलकर बनाई गयी परियोजनाओं को मानव संसाधन मंत्रालय जल्द मंजूरी दे ताकि इसे जल्द से जल्द लागू किया जा सके।
  • मानव संसाधन और विकास मंत्रालय का सरकारी और निजी क्षेत्रों के साथ मिलकर 10 विश्व स्तरीय संस्थान बनाने का कदम भी सराहनीय है।
  • विश्व स्तरीय संस्थान बनाने का रास्ता प्रतिभा, संसाधन और मैनेजमेंट के जरिए होकर जाता है। हमारे संस्थानों में गुणवान छात्र और विश्व स्तरीय शिक्षकों की भरमार होनी चाहिए। विभिन्न फंडिंग, बातचीत और आपसी सहयोग के जरिए जरूरत के हिसाब से अपने संस्थानों को विकसित करना होगा।
  • हमारे संस्थानों के पास ना सिर्फ देसी बल्कि विदेशी प्रतिभा को भी अपनी ओर आकर्षित करने की क्षमता होनी चाहिए।
  • हमें प्रतिभा पलायन की जगह प्रतिभा विकास के लिए नेटवर्क बनाने की जरूरत है।
  • विश्व स्तरीय संस्थान वित्तिय संसाधनों के जरिए ही विकसित किए जा सकते हैं।
  • शासकीय संस्थानों में सरकारी फंडिंग बजट प्रावधानों तक ही सीमित है। सरकारी संस्थानों में जरूरी सुविधाओं के विकास के लिए दूसरे स्रोत से भी मदद लेनी होगी।

IAS All India Prelims Test Series

ओरिएंट आईएएस ऑल इंडिया आईएएस प्रीलिम्स टेस्ट सीरीज 2017

IAS परीक्षाओं की तैयारी हेतु अग्रणी संस्थान ओरिएंट आईएएस द्वारा ‘ऑल इंडिया आईएएस प्रीलिम्स टेस्ट सीरीज 2017’ को तैयार किया गया है। इस पुस्तक में 100 प्रश्नों वाले 16 टेस्ट सीरीज IAS प्रारंभिक परीक्षा के अनुरूप तैयार किए गए हैं। टेस्ट सीरीज में परम्परागत प्रश्न के साथ-साथ नवीन समसामयिकी को भी सम्यक स्थान दिया गया है। अभ्यर्थियों में उत्तर लेखन विकसित करने हेतु प्रत्येक प्रश्न का विश्लेषण सहित व्याख्यात्मक हल भी प्रदान किया गया है।

कुछ प्रश्नों का प्रयास करने के लिए यहां क्लिक करें

IAS Prelims Mock Test Series 2017

क्रॉनिकल ऑल इंडिया आईएएस प्रीलिम्स टेस्ट सीरीज 2017

क्रॉनिकल प्रकाशन सिविल सेवा परीक्षाओं की तैयारी के लिए एक जाना हुआ नाम है। प्रत्येक वर्ष काफी प्रश्न इसकी पुस्तकों से पूंछे जाते हैं।ऑल इंडिया आईएएस प्रीलिम्स टेस्ट सीरीज 2017’ इसी श्रेणी में एक अन्य पुस्तक हैं जो IAS परीक्षा 2017 को ध्यान में रखकर तैयार तैयार किया गया है। इस पुस्तक में NCERT आधारित, विषय विशेष और समसामयिकी आधारित टेस्ट पेपर रखा गया है और प्रत्येक टेस्ट सीरीज में 100 प्रश्न सम्मिलित किये गए है।

सामान्य अध्ययन पेपर-I के 9 टेस्ट और सीसेट पेपर-II के 5 टेस्ट भी सम्मिलित किये गए है। अभ्यर्थी में उत्तर लेखन विकसित करने हेतु प्रत्येक प्रश्न का विश्लेषण सहित व्याख्यात्मक हल भी प्रदान किया गया है।

कुछ प्रश्नों का प्रयास करने के लिए यहां क्लिक करें

IAS Prelims All India Test Series 2017

क्रॉनिकल सिविल सर्विसेज करंट अफेयर मॉक टेस्ट सीरीज 2017

यह मॉक टेस्ट सीरीज IAS प्रीलिम्स 2017 के नवीनतम परीक्षा पैटर्न पर आधारित है और आईएस 2017 में प्रतिभाग करने वाले अभ्यर्थीयों के लिए विशेष उपयोगी है। इस ऑनलाइन मॉक टेस्ट सीरीज में आप अपने मोबाइल से भी प्रतिभाग कर सकते हैं और अपनी तैयारी की जांच कर सकते हैं।

सिविल सर्विसेज करंट अफेयर: मॉक टेस्ट सीरीज 2017 की शुरुवात क्रॉनिकल IAS के सहयोग से Online Tyari द्वारा आपको प्रदान किया जा रहा है।

कुछ प्रश्नों का प्रयास करने के लिए यहां क्लिक करें

IAS Indian Polity Best Books

भारत की राजव्यवस्था: पंचम संस्करण, एम. लक्ष्मीकान्त

हिंदी माध्यम से सिविल सर्विस की तैयारी कर रहे सभी छात्रों के लिए इस पुस्तक का अध्ययन करना अत्यंत आवश्यक है। पंचम संस्करण में सिविल सर्विस के पाठ्यक्रम में हुए अभी तक के सभी बदलाव को शामिल किया गया है। पुस्तक में राजव्यवस्था के बुनियादी संकल्पनाओं, भारतीय संविधान का इतिहास और संशोधन, कार्यपालिका और न्यायपालिका के समस्त कलेवर को अत्यंत सरल भाषा में समझाया गया है। यह पुस्तक MC Graw Hill प्रकाशन से प्रकाशित की गई है।

अभी खरीदें

IAS Prelims 2017 Best Books

भारतीय अर्थव्यवस्था: सिविल सेवा परीक्षा के लिए सफल मार्गदर्शिका – रमेश सिंह

अपने ज्ञान में विस्तार के लिए और सिविल सेवा परीक्षाओं में भारतीय अर्थव्यवस्था की तैयारी के लिए रमेश सिंह द्वारा लिखित और MC Graw Hill द्वारा प्रकाशित इस पुस्तक का अध्ययन अवश्यक है। सामान्य अध्ययन के कौशल को विकसित करने में भी यह पुस्तक सहायक है और इसमें सिविल सेवा परीक्षाओं के पाठ्यक्रम के तहत अध्याय और सामग्री का संकलन किया गया है जिससे अभ्यर्थी को परीक्षा में सफलता पाना सरल हो जाएगा।

अभी खरीदें

IAS Prelims Best Books Best Price

भारत का भूगोल: माजिद हुसैन और रमेश सिंह

भारत का भूगोल पुस्तक में भारतीय भूगोल का विहंगम अध्ययन किया गया है। इस पुस्तक में भौगोलिक संरचना, नदी, मरुस्थल, पहाड़ और पठार, पहाड़ी श्रृंखला, नहर, कृषि, अभ्यारण, खनिज, उर्जा स्त्रोत, जलवायु, मिट्टी, राजनीतिक-भूगोल, भौगोलिक-संकृति आदि विषयों पर कवर किया गया है। यह पुस्तक सरल भाषा में सम्पूर्ण सिविल सर्विस परीक्षा के पाठ्यक्रम को कवर करती है इसलिए यह पुस्तक सभी हिंदी माध्यम से तैयारी करने वाले छात्रों के लिए विशेष उपयोगी बन गई है।

अभी खरीदें

अब हम करेंट अफ़ेयर्स पर IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के महत्वपूर्ण विषयों पर आधआरित अपने इस लेख को यहीं विराम देते हैं। हमारे साथ बने रहें क्योंकि हम दिन-प्रतिदिन बचे हुए विषयों पर चर्चा करेंगे। सिविल सेवा परीक्षाओं में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए सर्वश्रेष्ठ IAS परीक्षा तैयारी एप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best Exam Preparation App OnlineTyari

अगर अभी भी आपके मन में किसी प्रकार की कोई शंका या कोई प्रश्न है तो कृपया नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में उसका ज़िक्र करें और बेहतर प्रतिक्रिया के लिए OnlineTyari Community पर अपने प्रश्नों को हमसे साझा करें।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.